छ.ग. के साहित्यकार एवं रचनाये

October 23, 2018

छ.ग. के साहित्यकार एवं रचनाये 

आईये इस आर्टिकल के माध्यम से जानते है, छ.ग के साहित्यकारों और उनकी रचनाओं के बारे में –

 

नरसिंह दस वैष्णव- छ.ग प्रथम कवि एवं प्रथा कविता- शिवायन (1904)

लोचन प्रसाद पांडेय- छ.ग. का प्रथम नाटक- कलिकाल (1905)

 

बंशीधर पांडेय- छ.ग.का प्रथम कहानी- हीरु के कहिनीज (1926)

पंडित सुंदरलाल शर्मा-
उपन्यास -प्रहलाद चरित्र, ध्रुव चरित्र, सीता परिणय, पार्वती परिणय,करुणा पच्चीस सच्चा दरबार।
खंडकाव्य- दानलीला, कंस वध।

 

मुकुटधर पांडेय- कुर्री के प्रति (1950), मेघदूत

शिवशंकर शुक्ल- दियना के अंजोर(1964), मोंगरा (1965)

 

केयर भूषण- छ.ग.का प्रथम निबंध- राडी ब्राह्मण के दुर्दशा (1968), उपन्यास- फुटहा करम(1970)

डॉ. निरुपमा शर्मा- छ.ग. की पहली कवियत्री -पतरेंगी। पहली महिला साहित्यकार-बूंदो का सागर।

 

श्यामलाल चतुर्वेदी- पर्रा भर लाई, राम वनवास, सतवंती सुकुमारी, भोलवा भोलाराम।

कपिलनाथ कश्यप- छ.ग की भागीरथी कवि- श्रीराम कथा, अंधियारी रात, गुरावट विवाह।

 

डॉ. नरेंद्र वर्मा- सोनहा बिहान, अपूर्वा, मोला गुरु बनाई लेते, सुबह की तलाश।

डॉ. शंकर शेष- घरौंदा, दूरिया।

 

डॉ. राविनय कुमार पाठक- छत्तीसगढ़ी लोककला (1970)

मदयाल तिवारी- छ.ग. के विद्या सागर- गाँधी मीमांसा

 

 

296total visits,3visits today

Leave a Reply:

Your email address will not be published. Required fields are marked *