छत्तीसगढ़ी मुहावरे

October 23, 2018

छत्तीसगढ़ी मुहावरे एवं हिंदी अनुवाद-

आईये दोस्तों जानते है कुछ ऐसे मुहावरे जो छत्तीसगढ़ में बहुत प्रचलित है और जिससे लोगो को बहुत कुछ सीखने को मिलता है –

अचरा मारना:-टोना करना

कोरी खरिखा होना:-बहुसंख्यक होना

गाय के गोड़ म बछरू बाँधना:-नियंत्रण में रखना

डूमर कीरा होना:-सीमित दायरे में रहना

दउहा बुताना:-नाम मिट जाना

अरी के तेल बरी म निकालना:-अवसर का लाभ लेना

जिजोधन डारना:-विवाह करना

अलकरहा म घाव होना:- गुप्त बातों को बताने के लिए मज़बूर होना

आगी म मूतना:-अन्याय करना

हगे के बेर गीत गाये:-थोड़ा संपन्न अथवा जानकार व्यक्ति का अहंकारी होना

जहाँ डौकी सियान, उँहा मरे बिहान

गदरहा सुर न बगुला जती, बनिया मीत न बेसिया सती

तेली के घर तेल होथे त पहाड़ ल नई पोते

अकरस जोतना:-भविष्य में लाभ के लिए कार्य करना

ओसहा पानी:-दवायुक्त पेय पदार्थ

एक धान के कई चाऊर होना:-लाभ ही लाभ होना

उखान के भारा बाँधना:-हानि पहुँचाना

 

# Big Thank you!!

622total visits,2visits today

Leave a Reply:

Your email address will not be published. Required fields are marked *